देश में 'मीठी क्रांति' लाने वाली गन्ने की प्रजाति को लगा बड़ा झटका

देश में 'मीठी क्रांति' लाने वाली गन्ने की प्रजाति को लगा बड़ा झटका, भारी बारिश से हुए लाल सड़न और चोटी बेधक जैसे रोग से खेतों में आई बर्बादी

डॉ. बक्शीराम ने CO-238 गन्ने की किस्म विकसित की थी इससे गन्ने की पैदावार और चीनी उत्पादन बढ़ा इसे 'करन फोर' गन्ने के नाम से जाना जाता है

कुछ समय से CO-238 में भी रोग दिखने लगे लाल सड़न और चोटी बेधक जैसे रोग अस्वस्थ बीज और गलत कृषि पद्धति कारण

3 साल पहले भी इस गन्ने में रेड रॉट रोग देखा गया भारी बारिश के कारण फैला था पूर्वी UP और बिहार में सबसे ज्यादा प्रभावित

अस्वस्थ बीज का इस्तेमाल गलत रासायनिक उर्वरक जमीन की गलत तैयारी गन्ने के ऊपरी हिस्से का इस्तेमाल

स्वस्थ बीज का प्रयोग गन्ने की ठीक देखभाल सही रासायनिक उर्वरक केवल नीचे का हिस्सा लगाएं 118 या 13023 जैसी किस्में लगाएं

पंजाब, हरियाणा, UP में ज्यादा लगाई जाती है 21% प्रति हेक्टेयर उपज बढ़ी